सब इंस्पेक्टर ने पत्र में लिखा- थाने में महिलाओं के लिए टॉयलेट नहीं, इसीलिए स्टाफ क्वार्टर गई थी, सस्पेंशन वापस

0

पानीपत (सुभाष राय/सचिन सिंह). अभिनेता अक्षय कुमार की ‘टाॅयलेट एक प्रेम कथा’ फिल्म में टाॅयलेट के कारण पति-पत्नी के बीच तलाक की नौबत आ गई, तब सरकार जागी थी। पानीपत के सबसे व्यस्त सिटी थाने में टाॅयलेट न होने के कारण महिला सब-इंस्पेक्टर सस्पेंड हो गई। हालांकि, सब-इंस्पेक्टर निर्मला को अब बहाल कर दिया गया है। गृहमंत्री अनिल विज की विजिट के दौरान सब-इंस्पेक्टर गैरहाजिर मिली थीं। इस पर विज ने सस्पेंड करने के आदेश दे दिए थे। उस समय सब-इंस्पेक्टर ने गैरहाजिर होने का कारण नहीं बताया था। बाद में गृहमंत्री को पत्र लिखकर जो कारण बताया- वह चौंकाने वाला है।

उन्होंने पत्र में लिखा, ‘गृहमंत्री अनिल विज जी! 16 नवंबर को अचानक आपने सिटी थाने का दौरा किया। उस दौरान मैं 15 मिनट के लिए थाना परिसर स्थित अपने मकान पर वाॅशरूम के लिए गई थी। क्योंकि थाने में महिलाओं के लिए अलग से टॉयलेट नहीं है। आपके आने की सूचना मिलते ही लौट आई।’ पत्र के बाद सब-इंस्पेक्टर निर्मला को एक माह बाद बहाल कर दिया है। गृह मंत्री ने कहा है कि सभी थानों में महिलाओं के लिए अलग से टॉयलेट होने चाहिए। पानीपत के एसपी सुमति कुमार ने थानों में टॉयलेट बनवाने के आदेश दिए हैं।

पानीपत जिले के सभी थानों में महिलाओं के लिए अलग से टाॅयलेट बनाने का काम शुरू हो चुका है। 15 नवंबर को गृहमंत्री बनने के बाद अनिल विज ने 16 नवंबर को दिल्ली से चंडीगढ़ लौटते वक्त जीटी रोड किनारे स्थित पानीपत सिटी थाने का दौरा किया था। विज ने थाने में मौजूद पुलिसकर्मियों की हाजिरी का रजिस्टर चेक किया तो सब-इंस्पेक्टर निर्मला नहीं मिली थीं। इस पर विज ने सब-इंस्पेक्टर को सस्पेंड करने के आदेश दिए थे।

पुराने थानों में टाॅयलेट की दिक्कत

टाॅयलेट की दिक्कत मुख्य रूप से पुराने थानों ही में है। पानीपत में कई थानों की बिल्डिंग पुरानी है, इसलिए महिलाओं के लिए अलग से टाॅयलेट नहीं है। सेक्टर-29 पार्ट-2 सहित अन्य नए थानों में अलग से महिला टाॅयलेट हैं। जहां-जहां महिला टाॅयलेट नहीं हैं, वहां टॉयलेट बनाने के निर्देश दिए गए हैं। -सुमित कुमार, एसपी, पानीपत

सुनिश्चित कराएंगे थाने में अलग टॉयलेट

गृहमंत्री अनिल विज ने इस बारे में कहा कि निश्चित रूप से सभी थानों में महिला के लिए अलग से टाॅयलेट होने चाहिए, ताकि महिला पुलिसकर्मियों के साथ ही थाने जाने वाली अन्य महिलाओं को भी दिक्कत न हो। विज ने कहा कि यह सुनिश्चित करवाएंगे कि प्रदेश के सभी थानों में महिला के लिए अलग से टाॅयलेट हो।

Leave A Reply

Your email address will not be published.