बाराबंकी में सूरत से लौट रहे तीन मजदूर हुए हादसे का शिकार, जालौन में डीसीएम खाई में पलटी; 6 शहरों में 8 की गई जान, 66 हुए घायल

0

कोरोनावायरस की रोकथाम के लिए 17 मई तक देशव्यापी लॉकडाउन है। इस बीच गैर राज्यों में फंसे श्रमिक परिवार के साथ जैसे तैसे पलायन कर अपने गांव लौट रहे हैं। लेकिन असुरक्षित यातायात उनके लिए जानलेवा साबित हो रहा है। बीते 12 घंटे में उत्तर प्रदेश में बहराइच, बाराबंकी, मेरठ, जालौन, जौनपुर व ललितपुर में सड़क हादसे हुए। जिसमें 8 लोगों की मौत हुई तो 69 घायल हुए। घायलों को नजदीकी अस्पतालों में भर्ती करवाया गया है। वहीं, पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

बाराबंकी: तीन प्रवासी श्रमिकों की मौत, चार घायल जिले में रामनगर तिराहे पर गुरुवार देर रात करीब ढाई बजे अज्ञात वाहन की ठोकर से जगदीश (38 वर्ष), धर्मेंद्र (27 वर्ष), मिहाज अली (33 वर्ष) की मौत हो गई। जबकि, चार घायल हो गए। घायलों को इलाज के लिए लखनऊ के ट्रामा सेंटर रेफर किया गया है। साथ मौजूद रहे मनोज कुमार निषाद ने बताया कि यह लोग सूरत में कमाने के लिए गए थे। लॉकडाउन के चलते सभी वहां फंसे थे। ये सभी लोग ट्रक से वापस आ रहे थे और किसी काम से यहां रुके थे, तभी यह लोग हादसे का शिकार हो गए। इन लोगों को किसी अज्ञात वाहन ने ठोकर मारी है। मनोज ने आरोप लगाया कि उसने खुद सभी के लिए ऑनलाइन अप्लाई किया था, लेकिन किसी को कोई सरकारी मदद नहीं मिली।

Source by :: Dainik bhaskar

Leave A Reply

Your email address will not be published.